Grah


कार्तिक (Kartik)

Diya AB

कार्तिक

कार्तिक मास हिन्दू पंचांग का आठवां मास है, कार्तिक मास अंग्रेजी कैलेंडर अक्टूबर या नवम्बर महीने में प्रारंभ होता है | इसका प्रारंभ शरद पूर्णिमा के अगले दिन से होता है |

कार्तिक मास के प्रमुख त्यौहार

करवा-चौथ, अहोही-अष्टमी, धनतेरस, नरक-चतुर्दशी, दीपावली, गोवर्धन पूजा, भाई-दूज, डाला-छठ, देव-दीपावली

कार्तिक मास में जन्में जातक

कार्तिक मास में जन्म लिए हुए जातक सौन्दर्य प्रेमी, बुद्धिमान, विश्वासी, न्यायप्रिय तथा कलाप्रेमी होते हैं |

सार्वजानिक जीवन में इन्हें अच्छी ख्याति मिलती है |

इनकी बुद्धि प्रखर होती है, घोर विप्पति के समय भी यह घबराते नहीं है |

इनके मित्रों की संख्या अधिक होती है पर समय पड़ने पर कोई भी काम नहीं आता है |

इनका भाग्य विद्या के द्वारा जागता है |

विवाह छोटी आयु में ही हो जाता है, भाग्योदय 35 वर्ष की आयु में होता है |

जीवन में कठिनाइयाँ कम आती है |

आर्थिक स्थिति अच्छी रहती है, स्वास्थ्य सामान्य रहता है |

आयु प्रायः बड़ी होती है, संतान सुख मध्यम रहता है |

कभी कभी आकस्मिक लाभ भी होता है |

Comments (0)

Leave Reply



Testimonial



Flickr Photos

Send us a message


Sindhu - Copyright © 2019 Amit Behorey. All Rights Reserved. Website Designed & Developed By : Digiature Technology Pvt. Ltd.